Connect with us

Study

Bhatia Ashram Suratgarh

Published

on

आज Bhatia Ashram Suratgarh का नाम राजस्थान में ही नहीं, बल्कि पूरे भारत में बहुत ही प्रचलित हो रहा है क्योंकि इसके अंदर शिक्षा का एक अनोखा रूप देखने को मिला है जिसमे एक अलग ही ढंग से शिक्षा को प्रदर्शित किया गया है।

इसके संचालक श्री प्रवीण भाटिया जी को मैं प्रणाम करता हूं, और इसके बारे में आपको आगे जानकारी देता हूं।

Bhatia Ashram Suratgarh विद्या का एक ऐसा मंदिर है जिसके अंदर हर धर्म, जाति के विद्यार्थी चाहे वह अमीर हो या गरीब पढ़ सकते हैं, यहां पर अनेकों तबके के लोग पढ़ने आते हैं यहां पर गरीब से गरीब लोग भी पढ़ते हैं और अमीर से अमीर लोग भी, क्योंकि यहां पर शिक्षा की व्यवस्था बहुत ही उच्चतम है।

शिक्षा के इस पावन मंदिर में दूर-दूर से लोग पढ़ने आते हैं वह साथ ही सूरतगढ़ के निजी कॉलेजों में Admission ले लेते हैं और Bhatia Ashram से IAS तथा RAS एवं अन्य सरकारी नौकरियों की तैयारी करते हैं जिनसे की वह अपने Graduation complete होने के साथ-साथ ही सरकारी नौकरी प्राप्त कर ले।

Bhatia Ashram Suratgarh

हम भाटिया आश्रम की बात करें तो इसके अंदर बहुत सारे रोचक तथ्य जुड़े हुए हैं जैसे कि यह एकमात्र देश का ऐसा शिक्षा संस्थान है जिसके अंदर इनके सीनियर स्टूडेंट्स ही दूसरे स्टूडेंट को पढ़ाते हैं और उनको गृह कार्य देते हैं।
इसके साथ साथ यह एकमात्र सबसे कम fees लेकर आईएएस तथा आर ए एस की तैयारी कराने वाला शिक्षा संस्थान है।

Bhatia Ashram Fees:-

मुझे पता है कि अब आपके मन में इसकी फीस को जानने की लालसा जगी होगी तो मैं आपको पहले ही बता दूं कि इसकी फीस मात्र ₹250 है जिनसे आप 1 महीने तक इसके अंदर तैयारी कर सकते हैं और इसके बाद आपको हर महीने ₹250 देने होंगे और आप इसके अंदर अपनी स्टडीज को सुचारू रूप से चला सकते हैं।

Address:-

Behind Tagore College, New Housing Board, PWD Colony, Suratgarh, (Rajasthan) (Pin-3335404)

Bhatia Ashram राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में सूरतगढ़ तहसील में है सूरतगढ़ को भाटिया आश्रम के कारण ही आज पूरे राजस्थान ही नहीं बल्कि भारत में भी शिक्षा के सर्वोच्च पर सर्वोच्च स्थान मिला है।

About Bhatia Ashram

भाटिया आश्रम में हर कार्य विद्यार्थियों की सुविधा तथा शिक्षा को ध्यान में रखते हुए किया जाता है यहां पर नियमित रूप से Test seres चलती है, जिसके आधार पर आप अपना मूल्यांकन कर सकते हैं और यह देख सकते हैं कि आपने जो अभी तक तैयारी की है उसमें आप कितने सफल हुए हैं।
पूरे भारत में दूसरा कोई ऐसा शिक्षा संस्थान नहीं है जो कि इस प्रकार से Test द्वारा आपका मूल्यांकन करें।

Bhatia Ashram के कारण Suratgarh का बहुत ही ज्यादा विकास हुआ है इसका मैं भी एक साक्षी हूं अर्थात मैं भी सूरतगढ़ में रहता हूं और सूरतगढ़ के ही एक कॉलेज (Suratgarh PG College) में अध्ययन कर रहा हूं और साथ में भाटिया आश्रम के बारे में भी अच्छी तरह से जानता हूं तो हम बात कर रहे थे सूरतगढ़ का विकास भाटिया आश्रम के कारण हुआ है क्योंकि भाटिया आश्रम के कारण यहां पर बहुत सारे स्टूडेंट दूर-दूर से पढ़ने आते हैं तो उनके रहने की व्यवस्था के लिए बहुत सारे हॉस्टल पीजी बन चुके हैं।

आज के समय में सूरतगढ़ में 10 से ज्यादा कूल है और तीन College है तथा सूरतगढ़ में आज बहुत सारे कोचिंग सेंटर खुल चुके हैं जो हर प्रकार की कोचिंग करवाते हैं और यह सब भाटिया आश्रम के कारण ही हुआ है भाटिया आश्रम एक बहुत अच्छी संस्था है जो गरीब बच्चों को भी बहुत अच्छी शिक्षा प्रदान कर रही है।

Bhatia Ashram Telegram

Bhatia Ashram का एक Telegram Channel है जिसके माध्यम से वह Bhatia Ashram में पढ़ने वाले सभी Students के साथ जुड़े रहते हैं और Bhatia Ashram में जो भी नहीं जानकारी बच्चों को देनी होती है वह Telegram Channel के माध्यम से ही दी जाती और test की Date, test का Result आदि जानकारियां भी टेलीग्राम चैनल के माध्यम से ही दी जाती है।

Bhatia Ashram Telegram

Suratgarh Super Thermal Power Plant

Bhatia Ashram Classes

भाटिया आश्रम के अंदर हर प्रकार की सरकारी नौकरी की तैयारी कराई जाती है परन्तु भाटिया आश्रम में मुख्य रूप से IAS तथा RAS जैसे सिविल सर्विस की तैयारी कराई जाती है।

  • IAS Tigar Batch
  • IAS Lion Batch
  • RAS Tiger Batch
  • RAS Lion Batch

जैसे ही बच्चों का School Complete होता है वैसे ही वह सूरतगढ़ आकर वहां के निजी Colleges में Admission करा लेते हैं और भाटिया आश्रम को Join करके अपने कॉलेज के साथ साथ ही Civil Services की तैयारी करते हैं भाटिया आश्रम में पढ़ने वाले ज्यादातर Students सूरतगढ़ में ही रहते है।

Parveen Bhatia Ji

Bhatia Ashram को Parveen Bhatia Ji द्वारा 2004 में शुरू किया गया था जब इन्होंने यह शुरू किया था तो इसमें सिर्फ 7 स्टूडेंट थे। अब इनकी संख्या बढ़कर कई हजारों में हो गई है।
भाटिया आश्रम के संचालक श्री Parveen Bhatia Ji खुद एक 1st Grade Teacher है और फिर भी वह निस्वार्थ भाव से भाटिया आश्रम को चला रहे हैं।

भाटिया आश्रम के बारे में ही मुख्य बात यह भी है इसका प्रचार किसी भी माध्यम से नहीं किया जाता है या यु कहे की इसका प्रचार विज्ञापन देकर नहीं किया जाता है, इसका प्रचार सफलता पाने वाले students ही करते हैं और इसी कारण आज यह है ऊंचाइयों को छु रहा है।

Bhatia Ashram Notes

अगर अब हम Bhatia Ashram Notes की बात करें तो भाटिया आश्रम खुद अपने विद्यार्थियों को पाठ्य सामग्री उपलब्ध करवाता है वह अपने विद्यार्थियों को नोट्स देता है जिनके कुछ Sample में आपको यहां दे रहा हूं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending